Pithoragarh District Height , Temperature , Temples and Airport

नमस्कार दोस्तों आज आज हम आपको उत्तराखंड दर्शन की इस पोस्ट में उत्तराखंड राज्य में स्थित “पिथोरागढ़ अर्थात Pithoragarh District Height , Temperature , Temples and Airport “ के बारे में जानकारी देने वाले है ,  यदि आप पिथौरागढ़ जिले के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हा तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़े !

Pithoragarh District (पिथोरागढ़ जिला)





Pithoragarh District Uttarakhandपिथोरागढ़,उत्तराखंड राज्य का एक नगर है , जो कि उत्तराखंड राज्य के पूर्व में स्थित सिमांतर जनपद है | इस जिले के उत्तर में तिब्बत, पूर्व में नेपाल, दक्षिण एवं दक्षिण-पूर्व में अल्मोड़ा, एवं उत्तर-पश्चिम में चमोली ज़िले पड़ते हैं |

पिथौरागढ़ का पुराना नाम “सोरघाटी” है। सोर शब्द का अर्थ होता है-– सरोवर। यहाँ पर माना जाता है कि पहले इस घाटी में सात सरोवर थे । सरोवर में पानी सूखने से इस स्थान में पठारी भूमि का जन्म हुआ | जिससे इस जगह का नाम “पिथोरा गढ़” पडा और यह भी माना जाता है कि मुगलों के शासन काल में उनकी भाषा की दिक्कतों के चलते इसका नाम “पिथौरागढ़” पड़ गया |

Height of Pithoragarh (पिथोरागढ़ की ऊँचाई)

यह समुद्र तल से 1650 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। पिथौरागढ़ एक छोटी सी घाटी है जो लगभग 5 किमी लंबी और 2 किमी चौड़ी है।

Temples of Pithoragarh (पिथोरागढ़ के मंदिर)





पिथोरागढ़ में निम्न मंदिर स्थित है :- श्रीकोट , कालिका , हट्काली , कामख्या , कपिलेश्वर , पाताल भुवनेश्वर , गोपालजी , नारायण मंदिर , मानु मंदिर , नालुकेश्वर , त्रिपुरा देवी मंदिर (बेरीनाग) |

और यदि आप पिथोरागढ़ जिले के इतिहास के बारे में जानना चाहते है तो निचे दिए गए लिंक में क्लिक करे !

Temperature of Pithoragarh

Summer Season :- अप्रैल से लेकर जून तक |

आम तौर पर, गर्मियों के मौसम को काफी सुखद माना जाता है, जो कि मध्यम जलवायु है | आमतौर पर गर्मियों में , शहर में 7 से 20 डिग्री सेल्सियस तक का तापमान दर्ज किया जाता है |

Monsoon Season:- अगस्त से लेकर नवम्बर तक |

मानसून का मौसम काफी सुखद होता हैं और आम तौर पर रातों में ठण्ड होती है।

Winter Season:- दिसम्बर से मार्च तक |

सर्दियों के दौरान , दिन में काफी ठण्ड होती हैं और औसत न्यूनतम तापमान होता है , जो आम तौर पर लगभग 4 डिग्री सेल्सियस को छूता है |

Pithoragarh Airport

नैनी सैनी हवाई अड्डा , कुमाऊं के एक खूबसूरत शहर पिथोरागढ़ का मुख्य हवाई अड्डा है । इस हवाई अड्डे को पिथौरागढ़ हवाई अड्डे या पिथौरागढ़ हवाई पट्टी के रूप में भी जाना जाता है। हवाई अड्डे का निर्माण 1 99 1 में प्रशासनिक उपयोग के लिए किया गया था और डार्नियर 228 प्रकार के विमानों के लिए योजना बनाई गई थी।



उम्मीद करते है कि आपको “ Pithoragarh District , Height , Temperature , Temples and Airport “ के बारे में पढ़कर आनंद आया होगा |

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई तो हमारे फेसबुक पेज को  LIKE और   SHARE जरुर करे |

उत्तराखंड के विभिन्न स्थल एवम् स्थान का इतिहास एवम् संस्कृति आदि के बारे में जानकारी प्राप्त के लिए हमारा YOU TUBE CHANNEL जरुर SUBSCRIBE करे |