जानिए नैनीताल जिले में स्थित प्रसिद्ध पर्यटक स्थल पंगोट के बारे में Tourist Place In Pangot Nainital Uttarakhand

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको “उत्तराखंड दर्शन” के इस पोस्ट में “पंगोट नैनीताल में स्थित आकर्षण पर्यटक स्थल” (Tourist Place In Pangot Nainital Uttarakhand) के बारे में बताने वाले हैं| यदि आप जानना चाहते हैं “पंगोट पर्यटक स्थल के बारे (Tourist Place In Pangot Nainital Uttarakhand” में तो इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े|





pangot-nainital

जानिए पंगोट पर्यटक स्थल के बारे में About Pangot Nainital Uttarakhand

उत्तराखंड, राज्य के नैनीताल जिले के कोसिआकुतोली तहसील में एक छोटा सा गांव पंगोट है| यह  समुद्रतल से लगभग 6,300 फीट की ऊंचाई पर एक पर्यटक स्थल है| यह पर्यटकों की बेहत पसंदीदा जगह है|पंगोट नैनीताल से सिर्फ 15 किमी दूर स्थित अपने जंगलों और पक्षियों के लिए प्रसिद्ध एक छोटा सुरम्य स्थान है। पंगोट में घूमना एक दूरस्थ हिमालयी गांव में कदम उठाने जैसा है। यह एक चिड़ियाघर है यहाँ आके पर्यटक स्वर्ग के सामान अनिभूति करते है| यहाँ आसपास के पक्षियों की 250 से अधिक प्रजातियां हैं।






पंगोट तक पहुंचने के लिए पूरी ड्राइव स्नो व्यू प्वाइंट और किलबरी के माध्यम से चाइना पीक रेंज के जंगली इलाके के माध्यम से है, जो उत्कृष्ट चिड़ियाघर के लिए मुख्य आवास है। पंगोट और आसपास के क्षेत्रों के जंगलों में मोटी ओक, पाइन और रोडोडेंड्रॉन का प्रभुत्व है। क्षेत्र द्वारा गुजरने वाली धाराएं इसे और भी आकर्षक जगह बनाती हैं।

पंगोट आकर्षण पर्यटक स्थल  Tourist Place Pangot-

आप   लैंगर्जियर, हिमालयी ग्रिफॉन, ब्लू-विंगड मिनला, स्पॉट और पंगोट के रास्ते में विभिन्न पक्षी प्रजातियों को देख सकते हैं। स्लेटी बैकड फोर्कटेल, रूफस-बेलीड वुडपेकर, रूफस-बेलीड निल्टावा, खलीज फिजेंट कुछ नाम हैं। कोई भी येलो-थ्रोटेड हिमालयी मार्टन, सम्भर, हिमालयी गोरल, बार्किंग हिरण, तेंदुए, सिवेट्स, पीले-बेल वाले हिमालयी वीसल, तेंदुए बिल्ली, सेरो, जंगली सूअर, लाल फॉक्स इत्यादि जैसे स्तनधारियों को भी देख सकते है। यहाँ से प्रसिद्ध कॉर्बेट नेशनल पार्क 80 किलोमीटर दूर स्थित है । आप वहां का भी आन्नद ले सकते हैं |






साल भर पर्यटकों द्वारा बड़ी संख्या में पहाड़ी स्टेशन का दौरा किया जाता है। ग्रीष्म ऋतु में गर्म और वर्तनी बाध्य मौसम सर्दियों में बर्फ से ढाका हुआ पर्वत शिखर दुनिया भर के आगंतुकों को आकर्षित करता है। पंगोट एक शांत वातावरण वाली जगह है यह पर्यटकों के लिए आदर्श स्थान है। यह पक्षी देखने, साहसी गतिविधियों, पहाड़ बाइकिंग और ट्रेकिंग के लिए एक अविश्वसनीय जगह है। ट्रेकिंग ट्रेल पंगोट से शुरू होता है और नैना पीक की ओर जाता है। एक और कॉर्बेट नेशनल पार्क की ओर जाता है|

पंगोट में पक्षियों के कितने प्रजातियाँ पाई जाती हैं –

पंगोट इस क्षेत्र में रहने वाले पक्षियों की असंख्य प्रजातियों के लिए जाना जाता है। पंगोट में 500 से अधिक पक्षियों की प्रजातियां पाई जाती हैं जिनमें हिमालयी ग्रिफॉन, नीली पंख वाली मिनला, खलीज किसान और लैमरगेयर शामिल हैं।






पंगोट में साहसकारों के लिए कुछ ट्रेकिंग / हाइकिंग ट्रेल्स हैं जो कि रिज पर और घाटी के नीचे हरे जंगलों के माध्यम से कुछ लेते हैं। एक लोकप्रिय ट्रेकिंग ट्रेल है जो पंगोट से नैना पीक तक ले जाता है। एक और कॉर्बेट नेशनल पार्क की ओर जाता है।

कब जाए  पंगोट नैनीताल उत्तराखंड  –






पंगोट का मौसम पूरे साल सुहावना रहता है, सर्दियों में जहां ठंडक बढ़ जाती है, इस दौरान पर्यटक बर्फ से ढकी बर्फीली चोटियों को देख सकते हैं। वहीं गर्मियों पर मानसून में यहां का तापमान बेहद सामान्य रहता है, इस मौसम में रंग बिरंगे पक्षियों को निहार सकते हैं। पंगोट एक ऐसी जगह है जहाँ पर्यटक बार-बार आना पसंद करते हैं इस जगह को कपल्स हनीमून के लिए बेहद पसंद करते हैं| पंगोट एक ऐसी जगह हैं जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं|

यहाँ तक कैसे पहुचे How To Reach?

हवाईजहाज-





पंगोट का निकटतम हवाई अड्डा पंतनगर है, जोकि लगभग 58 किमी की दूरी पर स्थित है, पर्यटन पहवाई अड्डे से पंगोट के लिए टैक्सी किराये पर ले सकते हैं, और वहां तक आसानी से जा सकते हैं |

ट्रेन-

पंगोट का नजदीकी रेलवे स्टेशन काठगोदाम है, जोकि लगभग 20 किमी की दूरी पर स्थित है। काठगोदाम से पंगोट का रास्ता लगभग आधे घंटे में आसानी से पूरा किया जा सकता है। पर्यटक काठगोदाम से टैक्सी अथवा कार के जरिये पंगोट तक आसानी से पहुंच सकते हैं, |

PANGOT NAINITAL IN 360 DEGREE 






PANGOT NAINITAL UTTARAKHAND





GOOGLE MAP OF PANGOT NAINITAL 






उमीद करते हैं आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया तो इसे like तथा नीचे दिए बटनों द्वारा share जरुर करे |