उत्तराखंड का फल : ख़ुबानी , (फ्यादे , औषधिक गुण एवम् अन्य जानकारी ) !! ( KHUBANI )

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको उत्तराखंड दर्शन कि इस पोस्ट में उत्तराखंड राज्य में पाए जाने “ उत्तराखंड स्वादिष्ठ फल “ख़ुबानी” के बारे में जानकारी देने वाले हैं , यदि आप उत्तराखंड आते है तो “ख़ुबानी” का स्वाद जरुर ले | अब आगे हम आपको “ उत्तराखंड का फल : “ख़ुबानी” , (फ्यादे , औषधिक गुण एवम् अन्य जानकारी ) सम्बंधित सारी जानकरी पोस्ट में बताने वाले हैं | यदि आप यह सारी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं , तो इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े !

HEALTHY FRUIT OF UTTARAKHAND : KHUBANI !! (उत्तराखंड का स्वादिष्ठ फल : ख़ुबानी )





khubani in uttarakhand ख़ुबानी एक स्वादिष्ठ फल हैं , जिसे अंग्रेजी में “Apricot” के नाम से जाना जाता हैं और यह एक गुठलीदार फल हैं | पश्तो में इसे “ख़ुबानी” ही कहते हैं । फ़ारसी में इसको “ज़र्द आलू” कहते हैं। फ़ारसी में “आलू” का मतलब “आलू बुख़ारा” और “ज़र्द” का मतलब “पीला (रंग)” होता है, यानि “ज़र्द आलू” का मतलब “पीला आलू बुख़ारा’ होता है । यह फल खाने में काफी मीठा होता हैं एवम् यह स्वादिष्ठ फल गर्मियों के दिनों में मिलता हैं | भारत में ख़ुबानी की कई किस्मे पायी जाती हैं , जो कि इस प्रकार हैं जैसे सफेद , काले , गुलाबी और भूरे रंग | रंग के आधार पर ख़ुबानी फल के स्वाद पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है , लेकिन इसमें जो कैरोटिन होता हैं , उसमे जरुर अंतर आ जाता हैं | ख़ुबानी के पेड़ का कद छोटा होता है – लगभग 8-12 मीटर तक । उसके तने की मोटाई क़रीब 40 सेंटीमीटर होती है और ऊपर से पेड़ की टहनियां और पत्ते घने फैले हुए होते है । इस फल में कई प्रकार के विटामन्स और फाइबर होते हैं । ख़ुबानी में पोटैशियम , विटामिन सी , बी 1 और बी 2 , ई , पीपी और कैरोटिन में बीटा कैरोटिन जो कि स्वास्थय के लिए बहुत ही फ्यादेमंद हैं , इसके सेवन से आँखों की बिमारीयो में लाभ होता है और साथ ही लीवर भी सही रहता हैं | ख़ुबानीके बीज स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभदायक हैं । ख़ुबानीके अनेकों लाभ हैं । ख़ुबानीको न सिर्फ फल के रूप में बल्कि ख़ुबानी के बीज भी इम्यू्न सिस्टम मजबूत करने में सहायक होते हैं । ख़ुबानी के बीज अवश्य ही खांए इससे शरीर को ताकत मिलती हैं । विश्व में सबसे ज़्यादा ख़ुबानी तुर्की में उगाई जाती है , कश्मीर और हिमाचल के कई इलाक़ों में सूखी ख़ुबानी को किश्त या किष्ट कहते हैं। माना जाता है के कश्मीर के किश्तवार क्षेत्र का नाम इसीलिए पड़ा क्योंकि प्राचीनकाल में यह जगह सूखी खुबनियों के लिए प्रसिद्ध थी । आइए जानते हैं ख़ुबानी के स्‍वास्‍थ्‍य लाभों के बारे में ।

उत्तराखंड का फल : ख़ुबानी को खाने का फयादा





पाचन स्वास्थ्य में सुधार  ख़ुबानी फाइबर से युक्त फल है । इस फल को खाने से पाचन तंत्र ठीक होता है एवम् साथ ही साथ कब्ज संबंधी समस्या भी दूर होती है । ख़ुबानी कई पाचन संबंधी बिमारी और बवासीर रोग दूर करने में भी लाभकारी है । ख़ुबानी फल से पेट के कीड़े नष्ट हो जाते हैं । सूखे ख़ुबानी का फल पेट के लिए लाभकारी होता हैं ।

त्वचा सौंदर्य में बढ़ावा ख़ुबानी गर्मियों का फल हैं । इसके सेवन से त्व‍चा में निखार आता है । कील, मुंहासे, त्वचा संक्रमण इत्यादि ख़ुबानी के सेवन से दूर हो सकते है एवम् वर्तमान समय में उघोग जगत में ख़ुबानी का प्रयोग करके सौंदर्य उत्पाद भी बनाए जा रहे हैं।

आँखों को लाभ ख़ुबानी में प्रचूर मात्रा में “विटामिन ए” होते हैं । “विटामिन ए” और “एंटीऑक्सीडेंट” आंखों की कोशिकाओं और ऊतकों के नुकसान की पूर्ति करते हैं । मोतियाबिंद वाले रोगियों के लिए ख़ुबानी बहुत ही उत्तम फल है और इस फल के बीज से भी आंखों से संबंधी समस्याएं दूर होती हैं ।

कैंसर निरोधी ख़ुबानी के बीजों में कैंसर निरोधी तत्व मौजूद होते हैं । ख़ुबानी के बीज में पाया जाने वाला विटामिन बी-17  सामान्य कोशिकाओं के लिए पूर्णतया सुरक्षित है और यह कैंसर से बचाव में लाभकारी है sevan।

हृदय स्वास्थ्य में सुधार ख़ुबानी एक ऐसा लाभदायक फल है , जिससे हृदय संबंधी रोगों से आसानी से मुक्ति पाई जा सकती हैं । ख़ुबानी से कॉलेस्ट्रॉकल नियंत्रि‍त होता हैं ।

ख़ुबानी के बीज, सूखी ख़ुबानी और ख़ुबानी का रस सभी स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभकारी हैं इसीलिए गर्मियों में तरोताजा और फिट रहने के लिए ख़ुबानी का सेवन अवश्य करना चाहिए ।





उम्मीद करते है कि आपको “उत्तराखंड का फल : ” खुमानी , (फ्यादे , औषधिक गुण एवम् अन्य जानकारी ) ” !! Uttarakhand Fruit : “Khumani” !!” के बारे में पढ़कर आनंद आया होगा |

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई तो हमारे फेसबुक पेज को LIKE और SHARE  जरुर करे |

उत्तराखंड के विभिन्न स्थल एवम् स्थान का इतिहास एवम् संस्कृति आदि के बारे मे जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारा YOUTUBE  CHANNEL जरुर   SUBSCRIBE करे |