उत्तराखंड में बदरीधाम के बनाल आध्यात्मिकत टाउन

संवाद सहयोगी गोपेश्वर : बदरीनाथ धाम के आध्यात्मिक टाउनक रूप में विकसित करी जाल | पर्यटन , धर्मस्व एवं संस्कृति सचिव दिलीप जावलकरेल क की बद्रीनाथ मास्टर प्लान के ले भेर कलक्टेट सभागार में जिलास्तरीय अधिकारियों क दगाड विचार – विमर्श करी |

बदरीनाथ मास्टर प्लानक जानकारी दिन बख पर्यटक सचिवेल क की विभिन्न विभागों भे बदरीनाथ में प्रस्ताव एवं निर्माणधीन कार्यो में ले चर्चा करी | क की मास्टर प्लान के ध्यान में रखते हुए ले बदरीनाथ में हगीलक निर्माण कार्य करी जाल |

पर्यटक सचिचल क की मास्टर प्लानक किर्यान्वित करन में जिला प्रशासनक अहम भूमिका रोली | उनील प्रस्तावित मास्टर प्लान के ले भेरन बदरीनाथ में डिटेल सर्वे करनक सर्वे आधार में भूमि अधिग्रहण क प्रस्ताव तैयार करन और सर्वे क आधार में भूमि अधिग्रहण क प्रस्ताव तैयार करन आजी प्रभावित मखनक पुनर्वास क लिजी लैडबैंक तैयार करनेते क | क की बदरीनाथ मंदिर पेली तरह देवदर्शनी और पूरे बदरीनाथ टाउन में हर छोर भे दिखाई दे , इम्मे विशेष फोकस राखी जाल | क की बदरीनाथ धाम में तालाब क सौंदर्यीकरण , स्टीट स्कैपिंग , क्यू मैनेजमेंट मंदिर और घाटक सौंदर्यीकरण , बदरीश वन , पार्किंग फेसलिटी , रोड और रिवर फरंट  डेवलपमेंट आदि निर्माण कार्य मास्टर प्लानक तहत चरणबंध ढंग भे प्रस्तावित करी ग्यो| यात्री सुविधाओ क लिजी पेली चरण में शेष नेत्र , बदरीश झील आजी मंदिरक आसपास क क्षेत्र में काम करी जाल | दूसर चरण में मुख्य मंदिर , नदी तटों , घाटों एवं आसपास क स्थानों क सुसज्जित व विस्तारीकरण करी जाल | तत्पश्चात अंतिम चरण में शेष नेत्र भे बदरीनाथ मन्दिर तक आस्था पथ निर्माणक काम होल | हगील साल मार्च में निर्माण कार्य शुरू होल | बता की उत्तराखंड नगर नियोजन विभागेल पेली हे बदरीनाथ धामक विकासक लिजी मास्टर प्लान – 2025 तैयार करी खरो यो प्लानक कंपोनेंट और धाम में वर्तमान चुनौती के ध्यान में रखते हुए लगभग 85 हेक्टेयर क्षेत्रफल में सुविधाओक विकसित करनक लिजी एक मास्टर प्लान तैयार करी जमरो जम्मे यो पुर्रे हिल टाउन में सुव्यस्थित ढंग भे टैफिक मैनेजमेंट हे सकल और तीर्थ यात्रीयों क यां धार्मिक और आध्यात्मक अनुभूति मिल सकेली | उनील क की यांक हक़ हकूकधारियों तीर्थ पुरोहितोक व्यापारियों आजी स्थानीय निवासियों क हितों , उनार रोजगार आजी आजीविका क ध्यान में रखते हुए यां मास्टर प्लान क तहत विकास कार्य करी जाल | पर्यटक सचिवल क की हर साल लगभग 12 लाख श्रद्धालु बदरीनाथ पहुच राम | वर्तमान में रेलवे और आलवेदर रोड क काम पूर होल जब यां हर साल 30 लाख भे ज्याद तीर्थयात्री पूजाल| तीर्थयात्रियों क बेहतर सुविधा मुहैया करुनक क लिजी बदरीनाथ टाउन में टैफिक मैनेजमेंट और यात्री सुविधाओं क जुटून जरुरी छू |

badrinath