Buddha Temple – A Famous Buddhist Temple in Dehradun !! ( बुद्धा मंदिर )

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको उत्तराखंड दर्शन की इस पोस्ट में देवभूमि उत्तराखंड की राजधानी देहरादून जिले में स्थित प्राचीन एवम् लोकप्रिय धार्मिक “ Buddha Temple – A Famous Buddhist Temple in Dehradun !! ( बुद्धा मंदिर )  के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है | यदि आप “ बुद्धा मंदिर ” के बारे में पूरी जानकारी जानना चाहते है , तो इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े |

History And Beliefs of Buddha Temple !! ( बुद्धा मंदिर का इतिहास एवम् मान्यता )





बुद्धा मंदिर देहरादून उत्तराखंड अपनी विशाल प्राकृतिक सुंदरता , ताजा वातावरण और सुंदर लोगों के लिए जाना जाता है । उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में कई खूबसूरत जगह हैं । ऐसी ही एक खूबसूरत जगह “बुद्धा टेम्पल या बुद्धा मंदिर” है , जो कि एक तिब्बती मठ है और यह मण्डोलिंग मठ के रूप में भी प्रसिद्ध है | इसका एक तिब्बती धार्मिक स्थान, मोहब्लेवाला, क्लेमेंट टाउन, देहरादून में स्थित है , जो कि आईएसबीटी देहरादून से कुछ किलोमीटर दूर है । यह चार तिब्बती धर्म विद्यालयों में से एक के रूप में बनाया गया था और इसका नाम “निंगमा” था । अन्य तीन स्कूलों को शाक्य, काजूयू और गेलुक कहा जाता है और तिब्बती धर्म में भी बहुत महत्व है । इस स्थान को “बुद्ध मोनस्ट्री” या “बुद्ध गार्डन” के नाम से भी जाना जाता है एवम् यह Mindrolling Monastery के नाम से भी जाना जाती है | बौद्ध मंदिर का निर्माण 1965 में प्रसिद्ध “कोहेन रिनपोछे” और बौद्ध धर्म के धर्म की रक्षा और संस्कृति को बढ़ावा देने और संरक्षण के लिए कई अन्य भिक्षुओं द्वारा किया गया था । यह मंदिर जापानी वास्तुकला शैली में बनाया गया है । बुद्धा मंदिर के बारे में यह माना जाता है कि यह एशिया की सबसे बडी Buddhist समाधि है , हर साल हज़ारो की गिनती में देश – विदेश के टूरिस्ट यंहा दर्शन करने आते है | जिसमें लार्ड बुद्धा और गुरु पद्मसम्भावा (Guru Padmasambhava) की प्रतिष्ठा है । मंदिर में स्थित बुद्धा जी की 103 feet की प्रतिमा बहुत ही सुन्दर और आकर्षण का केंद्र है । पहले तीन फ्लोर में लार्ड बुद्धा की सरूप पेंटिंग्स है , जिसमें बुद्धा जी के जीवन के बारे में दिखाया गया है ।

बुद्धा मंदिर की ऊंचाई 220 feet है , इसमें 5 मंजिल का मंदिर है एवम् बुद्ध मंदिर के तीन मंजिलों पर अलंकृत सजावट देखने के बाद, एक मंदिर की चौथी मंजिल पर खुले देखने के मंच पर पहुंच सकता है , जो पूरे देहरादून घाटी के 360 डिग्री दृश्य पेश करता है और वो दृश्य बहुत ही आकर्षित करने वाला दृश्य होता है | ऐसा माना जाता है कि मंदिर को लगभग 50 कलाकारों द्वारा चित्रित किया गया था , जिन्होंने गोल्डन पेंट के इस तरह के ढांचे के निर्माण के लिए तीन साल का समय लिया था और यह चित्रकला बुद्ध के जीवन का वर्णन करती है । बुद्धा मंदिर में हर साल 500 से ज्यादा “लामस”  शिक्षा प्राप्त करने के लिए आते है , जिन की देख रेख बुद्धा मंदिर के प्राधिकारी करते है , उन्हें मंदिर में मुफ्त में खाना, रहना और कपडे और अन्य सुविधाएँ दी जाती है । बुद्धा मंदिर के चारो तरफ हरा भरा गार्डन , पेड़-पौधे और शॉपिंग काम्प्लेक्स है |

पूरे क्षेत्र में शांतिपूर्ण माहौल है , एक बार मंदिर में प्रवेश करने के बाद आप अपने संपूर्ण शरीर में शांति और आराम महसूस कर सकते है । यहां जगह-जगह बने लोहे के बड़े-बड़े रोलर घुमाने से हर मनोकामना पूरी होती है । मंदिर परिसर के अन्दर कई दुकानें, रेस्तरां और एक पुस्तक की दुकान भी है । अधिकांश पुस्तकें तिब्बती भाषा में हैं और ज्यादातर तिब्बती समुदाय द्वारा खरीददारी के लिए होती हैं , जो मंदिर के चारों ओर फैले होते हैं । बुद्धा मंदिर में तिब्बतन संस्कृति से जुडी हुई काफी चीज़ो का आप आनंद ले सकते है जैसे किताबे, उनका पहनावा, खाना, वास्तुकला और हस्तकला से निर्मित वस्तु आदि |

देहरादून में आप “बुद्धा मंदिर” के अलावा अन्य मंदिर जैसे कि लाखामंडल मंदिर , संतला देवी मंदिर , महासू देवता मंदिर , लक्ष्मण सिद्ध मंदिर और डाट काली मंदिर आदि प्रसिद्ध मंदिर के भी दर्शन जरुर करे |

Google Map of Buddha Temple in Dehradun !!

बुद्धा मंदिर , देहरादून के क्लीमेंट टाउन में दिल्ली-सहारनपुर रोड से आईएसबीटी से सिर्फ 4 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है | आप इस स्थान को निचे Google Map में देख सकते है |





उम्मीद करते है कि आपको “ बुद्धा मंदिर ” के बारे में पढ़कर आनंद आया होगा |

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई तो हमारे फेसबुक पेज को LIKE और SHARE  जरुर करे |

उत्तराखंड के विभिन्न स्थल एवम् स्थान का इतिहास एवम् संस्कृति आदि के बारे मे जानकारी प्राप्त के लिए हमारा YOUTUBE  CHANNEL जरुर   SUBSCRIBE करे |