Incredible Tourist Places and Sightseeing places to visit PAURI GARHWAL !!

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको उत्तराखंड दर्शन की इस पोस्ट में उत्तराखंड राज्य के  पौड़ी गढ़वाल जिले में स्थित प्रसिद्ध एवम् लोकप्रिय पर्यटन स्थलों और धार्मिक स्थानों OR “Incredible Tourist Places and Sightseeing Places to visit in Pauri Garhwal  !!”) के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है | यदि आप ” टिहरी गढ़वाल जिले में स्थित प्रसिद्ध एवम् लोकप्रिय पर्यटन स्थलों और धार्मिक स्थानों ” के बारे में पूरी जानकारी जानना चाहते है , तो इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े |



Pauri Garhwal – A Famous Tourist Places in Uttarakhand 11

चारो तरफ पहाड़िया और बीच में है “पौड़ी” | उत्तराखंड की एक बेहद सुन्दर जगह है |   उत्तराखंड राज्य का एक जिला है | इस जिले का मुख्यालय पौड़ी है |यह जिला मध्य हिमालय में कंडोलिया की पहाड़िया में स्थित है | समुन्द्रतल से 1750 मीटर की ऊँचाई में स्थित ” पौड़ी “ हिल स्टेशन के रूप में भी जाना जाता है | पुरे सालभर में पौड़ी का वातावरण बहुत ही सुहाना रहता है | पौड़ी गढ़वाल की मुख्य नदियों में से अलकनंदा और नायर मुख्य है | इस स्थान की मुख्य भाषा “गढ़वाली”  है | अन्य भाषा में स्थानीय लोग हिंदी , अंग्रेजी भाषा को बेहतरीन रूप में बोलते है |यहाँ के लोकगीत , संगीत व नृत्य यहाँ की संस्कृति की संपूर्ण जगह में अपनी पहचान छोड़ते है | पौड़ी गढ़वाल जिला 9 तहसील और 15 विकास ब्लॉक में विभाजित है | पौड़ी गढ़वाल की अतुल्य सुन्दरता के कारण अंग्रेजो ने इसे हिलस्टेशन के रूप में विकसित किया |

पौड़ी गढ़वाल के इतिहास के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए निचे दिए गए लिंक में क्लिक कर पोस्ट को जरुर पढ़े :-

HISTORY OF PAURI GARHWAL !! ( पौड़ी गढ़वाल का इतिहास !! )

FAMOUS TOURIST PLACES TO VISIT IN PAURI GARHWAL !!

Tourist Place in Pauri Garhwal

Kandoliya Devta Temple (कंडोलिया देता मंदिर)

कंडोलिया मंदिर , पौड़ी गढ़वाल शहर से 2 किमी. की दूरी पर स्थित धार्मिक , पवित्र एवम् प्राचीन मंदिर है । यह मंदिर कंडोलिया देवता को समर्पित है , जो स्थानीय भूमि देवता हैं । मंदिर में भगवान शिव जी की कंडोलिया देवता के रूप में पूजा होती है | यह धार्मिक स्थान महान हिमालय की चोटियों और गंगवारस्यून घाटी का मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता है । कण्डोलिया देवता चम्पावत क्षेत्र के डुंगरियाल नेगी जाति के लोगों के इष्ट “गोरिल देवता” है । कंडोलिया देवता मंदिर में हर साल तीन दिवसीय मेले का आयोजन होता हैं और मेले में कंडोलिया देवता की पूजा-अर्चना होती है । इस तीन दिवसीय मेले के आयोजन में यहां सैकडों श्रद्धालु मन्नते मांगने आते हैं और मन्नते पूर्ण होने पर मंदिर में घंटा , छत्र आदि चढाते हैं ।

Pauri Garhwal Destination

JWALPA DEVI TEMPLE (ज्वाल्पा देवी मंदिर)

ज्वाल्पा देवी मंदिर उत्तराखंड राज्य में पौड़ी से 34 कि.मी. की दुरी पर स्थित एक धार्मिक एवम् पवित्र स्थान है | यह मंदिर नवालिका नदी के बाए किनारे पर स्थित लगभग 350 मीटरके क्षेत्र में फैला हुआ है | यह मंदिर देवी पार्वती (दुर्गा का अवतार) को समर्पित है , जो हिडि़यां के अवशक्तिारी देवी हैं । इस मंदिर का निर्माण स्वर्गीय श्री बुद्ध राम अनंतवाल के पिता श्री दत्ता राम अनन्तवाल ने बनाया था | वर्तमान समय में मंदिर की देखभाल और निर्माण कार्य “अनंतवाल समिति” और ज्वाल्पा देवी समिति” के द्वारा करी जाती है मंदिर के बारे में विश्वास के अनुसार भगवान अपने भक्तो की हर इच्छा को पूर्ण करते है | इस मंदिर में नवरात्रि के अवसर पर बड़ी ही धूम धाम से उत्सव मनाया जाता है |

Best places to Visit in Pauri Garhwal

Khirsu (खिर्सू)

उत्तराखंड लंबे समय से अपने धार्मिक इतिहास के लिए जाना जाता है । खिरसू उन पर्यटन स्थलों में से एक है , जो की वर्तमान समय में एक प्रसिद्ध हिल स्टेशन के रूप में प्रसिद्ध है | खिरसू उत्तराखंड राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले में स्थित एक प्रसिद्ध हिल स्टेशन है | यह एक रमणीक स्थल है । खिरसू असल में एक गांव है , जिसे उत्तराखंड राज्य बनने के बाद पर्यटन स्थल का दर्जा दिया गया । खिरसू समुन्द्रतल से लगभग 1700 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है | खिरसू हिल स्टेशन में ओक के पेड़, देवदार के पेड़ और सेब के बगीचे हैं | इस स्थान के एक कोने से दुसरे कोने तक देखने पर ऊँच पहाड़ी , घने जंगल और कई अन्य जगहों का आनंद ले सकते है | यह जगह उत्तराखंड में सबसे प्रतिष्ठित जगहों में से एक है |

Incredible places in pauri garhwal

DANDA NAGARAJA TEMPLE ( डांडा नागराजा मंदिर )

उत्तराखंड में भी एक ऐसा क्षेत्र है जहाँ भगवान श्री कृष्ण को डांडा नागराजा के रूप में (एक अद्वितीय रूप में) पूजे जाते है | श्री डांडा नागराजा का मंदिर उत्तराखंड के पौड़ी जिले मे बनेलस्युहं पट्टी मे स्थित है | यह मंदिर पौड़ी से लगभग 33 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है | यह मंदिर काफल , बांज और बुरांश के घने पेड़ो से घिरा पौड़ी जिले के मुख्य आकर्षण में से एक है | उत्तराखंड राज्य के पौड़ी जिले में स्थित डांडा नागराजा मंदिर अपनी अद्वितीय कथाओं और मान्यताओं के लिए भक्तगणों के साथ-साथ पर्यटकों के बीच भी प्रसिद्द है। स्थानीय लोगों के अनुसार मंदिर की स्थापना 140 वर्ष पहले हुई थी | प्रयेत्क वर्ष अप्रैल के माह में बैशाखी को डांडा नागराजा में एक विशाल मेला लगता है | मेले मे हजारो भक्तजन नागराजा जी के दर्शन को आते है |




Dhari Devi Temple Pauri Garhwal

DHARI DEVI TEMPLE ( धारी देवी मंदिर )

धारी देवी मंदिर , देवी काली माता को समर्पित एक हिंदू मंदिर है । धारी देवी को उत्तराखंड की संरक्षक व पालक देवी के रूप में माना जाता है । धारी देवी का पवित्र मंदिर बद्रीनाथ रोड पर श्रीनगर और रुद्रप्रयाग के बीच अलकनंदा नदी के तट पर स्थित है । धारी देवी की मूर्ति का ऊपरी आधा भाग अलकनंदा नदी में बहकर यहां आया था तब से मूर्ति यही पर है । तब से यहां देवी “धारी” के रूप में मूर्ति पूजा की जाती है । मूर्ति की निचला आधा हिस्सा कालीमठ में स्थित है, जहां माता काली के रूप में आराधना की जाती है | माँ धारी देवी जनकल्याणकारी होने के साथ ही दक्षिणी काली माँ भी कहा जाता है | धारी देवी दिन के दौरान अपना रूप बदलती है , कभी एक लड़की, एक औरत, और फिर एक बूढ़ी औरत का रूप बदलती है ।

Landsowne Pauri Garhwal

Landsowne (लैंसडाउन)

लैंसडाउन , उत्तराखण्ड के पौडी गढ़वाल जिले में स्थित एक सुन्दर हिल स्टेशन है | यह समुन्दरी तट से 1706 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है। लैंसडाउन उत्तराखण्ड राज्य (भारत) के पौड़ी गढ़वाल जिले में एक छावनी शहर है । उत्तराखंड के गढ़वाल में स्थित लैंसडाउन बेहद खूबसूरत हिल स्टेशन है। यहां की प्राकृतिक छटा सम्मोहित करने वाली है। खूबसूरत हिल स्टेशन लैंसडाउन को अंग्रेजों ने वर्ष 1887 में बसाया था । उस समय के वायसराय ऑफ इंडिया लॉर्ड लैंसडाउन के नाम पर ही इसका नाम रखा गया । स्थानीय भाषा में इसे “कालुदंड” कहते हैं, जिसका अर्थ है “काली पहाडी”लैंसडाउन “गढवाल रेजीमेंट” नामक भारतीय सेना का मुख्यालय स्थित है । यह पूरा क्षेत्र सेना के अधीन है और गढ़वाल राइफल्स का गढ़ भी है।

Pauri Garhwal point of Interest

Chaukhamba View Point !!(चौखम्बा व्यू पॉइंट)

चौखम्बा व्यू प्वाइंट को शहर की रोशनी और हरे पहाड़ियों की एक परिपूर्ण मिश्रण के रूप में परिभाषित किया जा सकता है । यह स्थान पौड़ी शहर से 5 किमी की दूरी पर स्थित है और यह स्थान चारों ओर से जंगलों के घने नेटवर्क से ढका हुआ है । हिमालयी चोटियों , ओक हरे पेड़ों और शहर की रोशनी के एक सुंदर मिश्रण से धन्य , चौखम्बा व्यू पॉइंट पूरे शहर में पौड़ी में सबसे अधिक तस्वीर-परिपूर्ण पर्यटक स्थल है । इस जगह से आप बर्फ से ढकी ब्रन्दा पूंच, गंगोत्री ग्रुप, केदारनाथ, नीलकंठ, नंदादेवी और त्रिशूल आदि पहाड़ियों का खूबसूरत नजारा साफ देख सकते हैं | चौखम्बा व्यू पॉइंट बर्फ से ढकी, जंगल आदि स्थलों के मज़ेदार चित्रण के लिए काफी प्रसिद्ध है, अगर इस जगह का असली आनंद लेना चाहते हैं, तो इस क्षेत्र में पैदल यात्रा करें |

Pauri Garhwal Places to Visit

Ransi Stadium ( रांसी स्टेडियम )

रांसी स्टेडियम उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले में पौड़ी शहर में स्थित है । यह स्टेडियम समुद्र तल से ऊपर 2133 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है । ऊंचाई में स्थित होने की वजह से यह स्टेडियम एशिया में दूसरा सबसे ऊंचा मैदान है । यात्री इस स्थान पर ट्रेकिंग का भी आनंद ले सकते हैं । रांसी स्टेडियम एक तरफ से पेड़ों से घिरा हुआ है और दूसरी ओर से यह चट्टान से घिरा हुआ है । यह जगह जंगल सफारी के लिए आदर्श है । जंगल सफारी के दौरान पर्यटको को हिरण, जंगली मुर्गियों को देखने के लिए मिलता है । यह स्टेडियम हिमालयी सीमा का एक मनोरम दृश्य भी प्रदान करता है । वर्तमान समय में रांसी स्टेडियम में जिला और राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है |

Some Other Attractions Places to Visit in Pauri Garhwal !!

प्रसिद्ध मंदिर (Famous Temple) :- धारी देवी मंदिर , क्यूकालेश्वर महादेव मंदिर , दुर्गा देवी मंदिर , तारकेश्वर महादेव मंदिर , नाग देव मंदिर , लक्ष्मण मंदिर (देवल गाँव) , सीता माता मंदिर (फिल्स्वारी) , बुदा भर्सार मंदिर , किम्कलेश्वर मंदिर आदि

पर्यटन स्थल (Tourist Places) :- ताराकुंड , अद्धानी , दरवान सिंह संघ्रालय (लैंसडाउन) , टिप इन टॉप पॉइंट (लैंसडाउन) , भुल्ला ताल झील (लैंसडाउन), राम गंगा डैम , गढ़वाल राइफल रेजिमेंटल वार मेमोरियल , बुद्धा पार्क , भीम पकोरा आदि 

गतिविधिया (Activities) :- ट्रेकिंग , फिशिंग (पौड़ी) , पिकनिक (खिर्सू में) , रिवर राफ्टिंग (राम गंगा नदी) आदि  





उम्मीद करते है कि आपको ” Incredible Tourist Places and Sightseeing Places to visit in Pauri Garhwal !! ” के बारे में पढ़कर आनंद आया होगा |

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई तो हमारे फेसबुक पेज को LIKE और SHARE  जरुर करे |

उत्तराखंड के विभिन्न स्थल एवम् स्थान का इतिहास एवम् संस्कृति आदि के बारे में जानकारी प्राप्त के लिए हमारा YOU TUBE CHANNELजरुर SUBSCRIBE करे |