Top 10 Best and Attractive Hillstation to Visit in Uttarakhand !!

0
349
Top-Best-Hillstation-of-Utta

[av_one_full first min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]

[av_heading heading=’Top 10 Best and Attractive Hillstation to Visit in Uttarakhand !!’ tag=’h2′ style=’blockquote modern-quote modern-centered’ size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ padding=’10’ color=” custom_font=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
नमस्कार दोस्तों आज हम आपको उत्तराखंड दर्शन की इस पोस्ट में उत्तराखंड राज्य के 10 प्रसिद्ध एवम् आकर्षक स्थानों अर्थात ( Top 10 Best and Attractive Places to visit in Uttarakhand !! ) के  बारे में पूरी जानकारी देने वाले है | यदि आप उत्तराखंड राज्य के 10 प्रसिद्ध एवम् आकर्षक स्थानों के बारे में पूरी जानकारी जानना चाहते है , तो इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े |

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});


[/av_textblock]

[/av_one_full][av_hr class=’default’ height=’50’ shadow=’no-shadow’ position=’center’ custom_border=’av-border-thin’ custom_width=’50px’ custom_border_color=” custom_margin_top=’30px’ custom_margin_bottom=’30px’ icon_select=’yes’ custom_icon_color=” icon=’ue808′]

[av_one_full first min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Top 10 Best and Attractive Hillstation to Visit in Uttarakhand !!’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
Top-Best-Hillstation-of-Uttaउत्तराखंड भारत के उत्तर में पहाड़ी राज्य है , जो कि पहले उत्तरांचल के नाम से जाना जाता था । दून वैली पर बसा देहरादून इसकी राजधानी है , जो चारों ओर से प्राकृतिक दृश्यों से घिरा हुआ है । इस राज्य का क्षेत्रफल 53,483 वर्ग किमी. है और यह भौगोलिक तौर पर मुख्यतः दो हिस्सों गढ़वाल और कुमाऊं में बंटा हुआ है। यह राज्य अपने प्रचुर प्राकृतिक संसाधनों, घने जंगलों, ग्लेशियरों और बर्फ से ढंकी चोटियों के लिए जाना जाता है । उत्तराखंड को ईश्वर की धरती या देवभूमि के नाम से जाना जाता है। हिंदुओं की आस्था के प्रतीक चारधाम बद्रीनाथ , केदारनाथ , गंगोत्री और यमुनोत्री यहीं स्थित हैं । उत्तर का यह राज्य गंगा और यमुना समेत देश की प्रमुख नदियों का उद्गम स्थल भी है । उत्तराखंड, वैली ऑफ फ्लॉवर (फूलों की घाटी) का भी घर है, जिसे यूनेस्को ने विश्व विरासत की सूची में शामिल किया है । हिल स्टेशनों की सुरम्यता के साथ-साथ धार्मिक महत्व के स्थान होने के कारण देश और दुनियाभर के लोग उत्तराखंड की सुन्दरता का लुफ्त उठाने के लिए आते हैं । अगर आप प्रकृति प्रेमी हैं और धार्मिक आस्था भी रखते हैं, तो आपको भी एक बार उत्तराखंड की यात्रा करनी चाहिए । यहाँ आपको प्रकृति की अनंत सुंदरता नज़र आएगी ।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});


[/av_textblock]
[/av_one_full]

[av_hr class=’default’ height=’50’ shadow=’no-shadow’ position=’center’ custom_border=’av-border-thin’ custom_width=’50px’ custom_border_color=” custom_margin_top=’30px’ custom_margin_bottom=’30px’ icon_select=’yes’ custom_icon_color=” icon=’ue808′]

[av_one_half first min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Nainital (City of Lake)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/Nainital-300×223.png’ attachment=’2917′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
नैनीताल भारत के उत्तरी राज्य उत्तराखंड का एक पर्यटन नगर है | बर्फ से ढके पहाड़ो के बीच बसा यह जगह झीलों से घिरी हुई है | इनमे से सबसे प्रमुख झील नैनी झील है | जिसके नाम पर इस जगह का नाम नैनीताल रखा गया है | इसलिए इसे “झीलों का शहर ” भी कहा जाता है | यह नगर एक सुंदर झील के आस-पास बसा हुआ है और इसके चारों ओर वनाच्छादित पहाड़ हैं । नैनीताल के उत्तर में अल्मोड़ा , पूर्व में चम्पावत , दक्षिण में ऊधमसिंह नगर और पश्चिम में पौड़ी एवं उत्तर प्रदेश की सीमाएँ मिलती हैं । नैनीताल को आप चाहे कही से भी देखे उसकी सुन्दरता बेहद खूबसूरत और मन को मोह लेती है | नैनीताल का दृश्य आँखों को सुख देता है |
[/av_textblock]
[/av_one_half]

[av_one_half min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]

[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Mussoorie (Queen of Hills)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/mossurie-300×223.png’ attachment=’2914′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
उत्तराखंड राज्य के देहरादून जिले से मसूरी मात्र 35 km की दुरी पर स्थित एक लोकप्रिय हिल स्टेशन है | यह उत्तराखंड में सबसे लोकप्रिय हिल स्टेशन है | इस जगह को “पहाड़ो की रानी” के नाम से भी जाना जाता है | मसूरी ने “मुसर्जी” या “झाड़ी के मंसूर” के पौधे से नाम प्राप्त किया है जो कि क्षेत्र में बड़ी मात्रा में उपलब्ध है। मसूरी 1880 मीटर की औसत उचाई पर गढ़वाल के पहाड़ो पर एक घोड़े की नाल के ऊपर स्थित है | मसूरी दून वैली और शानदार हिमालय के कमांडिंग नज़ारे प्रदान करता है | इस इलाके में सबसे ऊँचा स्थल लाल टिब्बा है , जो की लन्दौर नामक जगह में है | इसकी ऊँचाई 2,275 मीटर है | मसूरी को गंगोत्री और यमनोत्री का प्रवेश द्वारा भी कहा जाता है |
[/av_textblock]

[/av_one_half][av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
यदि आप उत्तराखंड के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल “नैनीताल औरमसूरी में घूमने आते है तो नैनीताल औरमसूरी की इन 10 खूबसूरत जगहों में भी जरूर घूमे |  नैनीताल औरमसूरी के 10 खूबसूरत पर्यटन स्थानो के बारे में जानने के लिए निचे दिए गए लिंक में क्लिक करे !!

Top 10 Best Places to Visit in Nainital !!

Top Best Tourist Places to Visit in Mussoorie !!
[/av_textblock]

[av_hr class=’default’ height=’50’ shadow=’no-shadow’ position=’center’ custom_border=’av-border-thin’ custom_width=’50px’ custom_border_color=” custom_margin_top=’30px’ custom_margin_bottom=’30px’ icon_select=’yes’ custom_icon_color=” icon=’ue808′]

[av_one_half first min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Auli (Snow Place Resort)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/auli-1-300×223.png’ attachment=’2911′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
औली उत्तराखण्ड का एक भाग है । यह 5-7 किलोमीटर में फैला छोटा-सा स्की-रिसोर्ट है । इस रिसोर्ट को 9,500-10,500 फीट की ऊँचाई पर बनाया गया है । यहाँ बर्फ से ढकी चोटियाँ बहुत ही सुन्दर दिखाई देती हैं । सेब के बगीचे, ओक और औली हिमालय पर्वत के बीच स्थित कई स्की रिसॉर्ट के साथ एक लोकप्रिय पहाड़ी शहर है । यह स्थान समुद्र के स्तर से 2800 मीटर ऊपर स्थित नंदादेवी पर्वत , मन पार्वत और कामत कामेट की पर्वत श्रृंखलाओं का घर है । औली के आसपास कई धार्मिक स्थल भी बिखरे हुए हैं | यह माना जाता है कि शंकराचार्य ने अपनी यात्रा के दौरान औली को आशीर्वाद दिया था | जिंदादिल लोगों के लिए औली बहुत ही आदर्श स्थान है ।
[/av_textblock]
[/av_one_half]

[av_one_half min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Munsiyari (Trek to Glaciers)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/munsiyari-300×223.png’ attachment=’2916′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
मुनस्यारी एक खूबसूरत पर्वतीय स्थल है , जो कि पिथौरागढ़ का एक सीमांत क्षेत्र है जिसके एक तरफ तिब्बत सीमा और दूसरी ओर नेपाल सीमा लगा हुआ है | यह स्थल मुख्य शहर पिथौरागढ़ से 128 km की दुरी पर स्थित है | मुनि का सेरा अर्थात तपस्वियों का तपस्थल होने के कारण इसका नाम “मुनस्यारी” पड़ा | मुनस्यारी उत्तराखंड राज्य में हिमालय पर्वत की तलहटी पर स्थित एक छोटा सा हिल स्टेशन है | यह छोटा-सा शहर पिथौरागढ़ जिले में सबसे सुखद मौसम के लिए जाना जाता है | इस हिलस्टेशन का एक प्रमुख हिस्सा बर्फ की मोटी परत के साथ ढका हुआ है | इस हिलस्टेशन को “मिनी कश्मीर” के नाम से भी जाना जाता है एवम् यह जगह मिल्लम, रलाम और नमोइक ग्लेशियरों का आधार है।
[/av_textblock]
[/av_one_half]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
यदि आप उत्तराखंड के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल “मुनस्यारी में घूमने आते है तो मुनस्यारी की इन 10 खूबसूरत जगहों में भी जरूर घूमे |मुनस्यारी के 10 खूबसूरत पर्यटन स्थानो के बारे में जानने के लिए निचे दिए गए लिंक में क्लिक करे !!

Top and Best Tourist Places to Visit in Munsiyari !!
[/av_textblock]

[av_hr class=’default’ height=’50’ shadow=’no-shadow’ position=’center’ custom_border=’av-border-thin’ custom_width=’50px’ custom_border_color=” custom_margin_top=’30px’ custom_margin_bottom=’30px’ icon_select=’yes’ custom_icon_color=” icon=’ue808′]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});


[/av_textblock]

[av_one_half first min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Mukteshwar (Untouched Dham)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/mukteshwar-300×223.png’ attachment=’2915′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
“मुक्तेश्वर” उत्तराखंड राज्य के नैनीताल जिले में स्थित एक ग्राम पंचायत है । यह समुन्द्र सतह से 2286 मीटर (7500 फीट) की ऊँचाई पर स्थित है | अंग्रेजी दौर में बने खूबसूरत हिल स्टेशन मुक्तेश्वर को “मुक्ति के ईश्वर” , संसार की बुरी शक्तियों के संहारक “भगवान शिव का घर” कहा जाता है | मुक्तेश्वर में भगवान शिव का 10 वी सदी पूर्व कत्युरी राजाओं द्वारा अविश्वसनीय-सा केवल एक रात्री में बनाया गया भव्य मुक्तेश्वर महादेव मंदिर स्थित है | मुक्तेश्वर के बारे में कहते है कि मुक्तेश्वर मंदिर के नीचे स्थित लाल गुफा वर्तमान समय में भी मौजूद है | सर्दियों में बर्फ से ढके मुक्तेश्वर धाम में बिलकुल कैलाश पर्वत की तरह अनुभव होता है |
[/av_textblock]
[/av_one_half]

[av_one_half min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Chopta (Meadows in Forest)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/chopta-300×223.png’ attachment=’2912′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
चोपता उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग ज़िले में उखीमठ से 37 किलोमीटर दूर पर समुद्र की सतह से 9515 फीट की ऊंचाई पर स्थित है । यह पहाड़ी स्थान एक ऐसी खूबसूरत जगह है , जहाँ पहुँच कर मन को शांति और विश्राम मिलता है | इस स्थान को मिनी स्विट्ज़रलैंड के नाम से भी जाना जाता है | यह सिर्फ एक पड़ाव है , जहाँ केदारनाथ और बदरीनाथ के बीच चलने वाली गाड़ियाँ रुकती हैं । यह छोटा-सा हिल स्टेशन है , जहाँ की सुंदरता किसी फोटो फ्रेम में कैद तस्वीर जैसी लगती है । यह किसी दूसरी दुनिया यानी धरती पर स्वर्ग जैसा अहसास कराती है । यहाँ कई यादगार पर्यटन स्थान मौजूद हैं , जो कि पर्यटकों की यात्रा को यादगार बनाने के लिए पर्याप्त हैं । यह छोटा-सा पहाड़ी स्थान पर्यटन के लिए आकर्षक जगहों से भरपूर है ।
[/av_textblock]
[/av_one_half]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
यदि आप उत्तराखंड के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल “मुक्तेश्वर में घूमने आते है तो मुक्तेश्वर की इन 10 खूबसूरत जगहों में भी जरूर घूमे |मुक्तेश्वर के 10 खूबसूरत पर्यटन स्थानो के बारे में जानने के लिए निचे दिए गए लिंक में क्लिक करे !!

Top and Best Tourist Places in Mukteshwar !!
[/av_textblock]

[av_hr class=’default’ height=’50’ shadow=’no-shadow’ position=’center’ custom_border=’av-border-thin’ custom_width=’50px’ custom_border_color=” custom_margin_top=’30px’ custom_margin_bottom=’30px’ icon_select=’yes’ custom_icon_color=” icon=’ue808′]

[av_one_half first min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]

[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Ranikhet (Army Kumaon Regiment)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/ranikhet-300×223.png’ attachment=’2918′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
रानीखेत उत्तराखंड राज्य के अल्मोड़ा ज़िले के अंतर्गत एक पहाड़ी पर्यटन स्थल है। देवदार और बलूत के वृक्षों से घिरा रानीखेत बहुत ही रमणीक एक लघु हिल स्टेशन है । रानीखेत समुद्रतल से 1869 मीटर (6,132 फीट) की ऊंचाई पर पश्चिमी हिमालय पर्वत के कुमाऊ रेंज में स्थित एक सुंदर हिल स्टेशन है । रानीखेत कुमाऊं रेजिमेंट का घर भी है , जिसकी देखभाल भारतीय सेना करती है । लोककथाओं के अनुसार , पद्मिनी, कुमाऊं क्षेत्र की सुंदर रानी रानीखेत आयीं थीं और इस जगह की खूबसूरती की कायल हो गईं। इसलिए, उनके पति राजा सुखहरदेव ने इस जगह पर एक महल का निर्माण कराया और इसे रानीखेत का नाम दिया |
[/av_textblock]

[/av_one_half][av_one_half min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Rishikesh (City of Yoga & Meditation)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/rishikesh-300×223.png’ attachment=’2919′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
” ऋषिकेश “ भारत के उत्तराखंड राज्य के देहरादून जिले में स्थित है | ऋषिकेश गढ़वाल हिमालय पर्वत की तलहटी में समुन्द्रतल से 409 मीटर की ऊँचाई पर स्थित और शिवालिक रेंज से घिरा हुआ है | ऋषिकेश दो शब्दों के संयोजन से बना है, “ऋषिक” और “एश” | “ऋषिक” का अर्थ है “इन्द्रिया” और “एश” का अर्थ है “भगवान या गुरु” | हिमालय की पहाड़िया और प्राकर्तिक सौन्दर्यता से ही इस धार्मिक स्थान से बहती गंगा नदी ऋषिकेश को अतुल्य बनाती है | ऋषिकेश का शांत वातावरण कई विख्यात आश्रमों का घर है | हर साल ऋषिकेश के आश्रमों में बड़ी संख्या में तीर्थयात्री ध्यान लगाने और मन की शांति के लिए आते है |
[/av_textblock]
[/av_one_half]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
यदि आप उत्तराखंड के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल “रानीखेत और ऋषिकेश में घूमने आते है तो रानीखेत और ऋषिकेश की इन 10 खूबसूरत जगहों में भी जरूर घूमे | रानीखेत और ऋषिकेश के 10 खूबसूरत पर्यटन स्थानो के बारे में जानने के लिए निचे दिए गए लिंक में क्लिक करे !!

Best and Awesome Tourist Places to Visit in Ranikhet !!

Best and Awesome Places to Visit in Rishikesh !!
[/av_textblock]

[av_hr class=’default’ height=’50’ shadow=’no-shadow’ position=’center’ custom_border=’av-border-thin’ custom_width=’50px’ custom_border_color=” custom_margin_top=’30px’ custom_margin_bottom=’30px’ icon_select=’yes’ custom_icon_color=” icon=’ue808′]

[av_one_half first min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Almora (Kumaon Hills)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/almora-300×223.png’ attachment=’2910′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
अल्मोड़ा जिला उत्तराखंड के कुमाऊं मण्डल का एक जिला है , जिसका मुख्यालय अल्मोड़ा नगर में है | अल्मोड़ा एक पहाड़ी जिला है जो की घोड़े के खुर के समान रूप में बना हुआ है | अल्मोड़ा जिले का क्षेत्रफल ३०८२ वर्ग किलोमीटर है | एक कथा के अनुसार कहा जाता है कि अल्मोड़ा की कौशिका देवी ने शुम्भ और निशुम्भ नामक दानवो को इसी क्षेत्र में मारा था | अल्मोड़ा पर पहले चाँद साम्राज्य का अधिकार था फिर कत्यूरी राजवंश का हो गया । अल्मोड़ा अपनी सांस्कृतिक विरासत, हस्तकला, खानपान और ठेठ पहाड़ी सभ्यता व संस्कृति के लिए प्रसिद्ध है। कुमाऊँनी संस्कृति का केन्द्र अल्मोड़ा है। कुमाऊँ के रसीले गीतों और उल्लासप्रिय लोकनृत्यों की वास्तविक झलक अल्मोड़ा में ही दिखाई देती है |
[/av_textblock]
[/av_one_half]

[av_one_half min_height=” vertical_alignment=” space=” custom_margin=” margin=’0px’ padding=’0px’ border=” border_color=” radius=’0px’ background_color=” src=” background_position=’top left’ background_repeat=’no-repeat’ animation=” mobile_display=”]
[av_heading tag=’h2′ padding=’10’ heading=’Kausani (Switzerland of Mahatma Gandhi)’ color=” style=’blockquote modern-quote modern-centered’ custom_font=” size=” subheading_active=” subheading_size=’15’ custom_class=” admin_preview_bg=”][/av_heading]

[av_image src=’http://www.uttarakhanddarshan.in/wp-content/uploads/2018/04/kausani-300×166.png’ attachment=’2913′ attachment_size=’medium’ align=’center’ styling=” hover=’av-hover-grow’ link=” target=” caption=” font_size=” appearance=” overlay_opacity=’0.4′ overlay_color=’#000000′ overlay_text_color=’#ffffff’ animation=’no-animation’ admin_preview_bg=”][/av_image]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
“कौसानी” उत्तराखंड राज्य के अल्मोड़ा जिले से 53 किलोमीटर दुरी पर उत्तर में स्थित है | यह भारत का एक खूबसूरत पर्वतीय पर्यटक स्थल है | यह स्थान हिमालय की सुन्दरता के दर्शन कराता पिंग्नाथ चोटी पर बसा है और साथ ही साथ इस स्थान से बर्फ से ढकी “नंदा देवी पर्वत” की चोटी का नज़ारा बड़ा भी अत्यधिक मनमोहक प्रतीत होता है | राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी ने कौसानी (जो कि कोसी नदी और गोमती नदी के बीच में स्थित है) को “भारत का स्विट्ज़रलैंड” कहा था | कौसानी समुन्द्रतल से लगभग 6075 फीट की ऊँचाई पर बसा एक खूबसूरत पर्वतीय पर्यटक स्थल है | इस क्षेत्र की चाय बहुत ही खुशबूदार और स्वादिष्ट होती है |
[/av_textblock]
[/av_one_half]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]
यदि आप उत्तराखंड के प्रसिद्ध पर्यटन स्थल “अल्मोड़ा” और “कौसानी में घूमने आते है तो अल्मोड़ा” और “कौसानी की इन 10 खूबसूरत जगहों में भी जरूर घूमे | अल्मोड़ा” और “कौसानी के 10 खूबसूरत पर्यटन स्थानो के बारे में जानने के लिए निचे दिए गए लिंक में क्लिक करे !!

Top and Best Tourist Places to Visit in Almora !!

Top 10 Best Tourist Places to Visit in Kausani !!
[/av_textblock]

[av_textblock size=” font_color=” color=” admin_preview_bg=”]

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});


उम्मीद करते है कि आपको ” उत्तराखंड के 10 प्रसिद्ध एवम् आकर्षक स्थानों अर्थात ( Top 10 Best and Attractive Places to visit in Uttarakhand !! ) ” के बारे में पढ़कर आनंद आया होगा |

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई तो हमारे फेसबुक पेज को LIKE और SHARE  जरुर करे |

उत्तराखंड के विभिन्न स्थल एवम् स्थान का इतिहास एवम् संस्कृति आदि के बारे मे जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारा YOUTUBE  CHANNEL जरुर   SUBSCRIBE करे |
[/av_textblock]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here