Tourist Places , Sightseeing Places and Things to do in Chamoli !!

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको उत्तराखंड दर्शन की इस पोस्ट में देवभूमि उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित आकर्षक दर्शनीय स्थल एवम् करने लायक गतिविधियों अर्थात “ Tourist Places , Sightseeing Places and Things to do in Chamoli !! ” के बारे में पूरी जानकारी देने वाले है | यदि आप ” चमोली जिले के आकर्षक , पर्यटन स्थल और आनंद लेने के लिए गतिविधयो ” के बारे में पूरी जानकारी जानना चाहते है , तो इस पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े |



Tourist Places and Sightseeing Places to Visit in Chamoli District !!

Places to visit in Chamoliउत्तराखंड में हर जगह सुंदर एवम् मनमोहक है लेकिन चमोली एक ऐसी जगह है , जहाँ सहज और शान्ति के साथ प्राकर्तिक सुन्दरता पाई जाती है | यह स्थान भारत के उत्तराखंड राज्य का एक सुन्दर जिला है | गोपेश्वर चमोली गढ़वाल का मुख्यालय है , यह स्थान 3000 फीट की ऊँचाई पर स्थित है और समुन्द्रतल से 12000 फूट ऊपर है | चमोली सबसे खूबसूरत गढ़वाल जिला है क्योंकि इसमें असाधारण प्राकृतिक सुंदर परिवेश, प्रमुख तीर्थयात्रियों के केंद्र हैं और राजसी हिमाच्छादित चोटियों से घिरा हुआ है | चमोली गढ़वाल स्वभाव में स्वर्ग जैसा है और यह दुनिया भर के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है । चमोली को देवताओं के निवास के रूप में भी जाना जाता है | चमोली अपने गांवों और गढ़वाल क्षेत्र की समृद्ध संस्कृति के लिए जाना जाता है । चमोली शहर अपने समृद्ध इतिहास को दर्शाता है और विभिन्न वनस्पति-जीवों में भी समृद्ध है | चमोली शहर उन कुछ स्थानों में से एक है , जहाँ आप हिमालयों के बीच में रहकर अपने अवकाश का दिन बिता सकते है | चमोली पुरे वर्ष अच्छा मौसम का अनुभव कराता है , इसलिए यह स्थान यात्रियों के लिए रोमांचकारी गतिविधियों का लुफ्त उठाने ,ठन्डे मौसम का आनंद , आराम और एहसास कराने के लिए एक आदर्श स्थान है |

चमोली जिले में कई पर्यटन स्थल है , जहाँ यात्री एवम् पर्यटक अपना अवकाश का समय बिता सकते है | आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से चमोली के सभी दर्शनीय स्थल के बारे में बताने वाले है जिससे कि यदि आप कभी भी चमोली नगर की यात्रा करे तो हमारे द्वारा बताये गए स्थानों/स्थलों का आनंद उठा सकते हो | चमोली के दर्शनीय स्थलों के बारे में जानने के लिए पोस्ट को अंत तक जरुर पढ़े |

gopeshwar

Gopeshwar (गोपेश्वर)

गोपेश्वर गढ़वाल ज़िला , उत्तराखंड में केदारनाथ के निकट एक प्राचीन पुण्य स्थान है। यह बद्रीनाथ से केदारनाथ जाने वाले मार्ग पर चमोली के निकट है। यहाँ से भगवान विष्णु का प्रभाव क्षेत्र समाप्त होकर शिव का क्षेत्र प्रारंभ होता है । गोपेश्वर से चमोली का दृश्य अत्यधिक सुन्दर दिखाई देता है | गोपेश्वर का शहर चमोली जिले के प्रशासनिक मुख्यालय है । महान धार्मिक महत्व वाले गोपेश्वर में कई प्राचीन मंदिर हैं । गोपेश्वर का मुख्य आकर्षण भगवान शिव का प्राचीन मंदिर , वैतरणी कुंड और हिमाचल के शानदार दृश्य हैं । रुद्रनाथ मंदिर का दौरा सागार नामक स्थान से शुरू होता है , जो 5 किमी दूर गोपेश्वर से गुप्तकाशी – गोपेश्वर रोड पर स्थित है ।

Auli (औली)

औली उत्तराखण्ड का एक भाग है । यह 5-7 किलोमीटर में फैला छोटा सा स्की-रिसोर्ट है । इस रिसोर्ट को 9,500-10,500 फीट की ऊँचाई पर बनाया गया है । यहाँ बर्फ से ढकी चोटियाँ बहुत ही सुन्दर दिखाई देती हैं । सेब के बगीचे, ओक और औली हिमालय पर्वत के बीच स्थित कई स्की रिसॉर्ट के साथ एक लोकप्रिय पहाड़ी शहर है । यह स्थान समुद्र के स्तर से 2800 मीटर ऊपर स्थित नंदादेवी पर्वत , मन पार्वत और कामत कामेट की पर्वत श्रृंखलाओं का घर है । औली के आसपास कई धार्मिक स्थल भी बिखरे हुए हैं | यह माना जाता है कि शंकराचार्य ने अपनी यात्रा के दौरान औली को आशीर्वाद दिया था | जिंदादिल लोगों के लिए औली बहुत ही आदर्श स्थान है ।




joshimath

Joshimath (जोशीमठ)

जोशीमठ को भी ज्योतिर्मथ के रूप में जाना जाता है एवम् इस स्थान को भगवान बद्री की सर्दियों की जगह के रूप में भी माना जाता है इसलिए जोशीमठ उत्तराखंड का एक पवित्र स्थान है । चमोली जिले के जोशीमठ में 8 वीं शताब्दी में आदि शंकराचार्य द्वारा चार ‘गणितों’ में से एक की स्थापना की गई थी । जोशीमठ में एक पवित्र कालवीवृक्ष को देखने का अवसर मिलता है , जिसे 1200 वर्ष पुराना कहा जाता है । जोशीमठ शहर नरसिम्हा और गौरीशंकर जैसे कई पवित्र मंदिरों के आसपास स्थित है इसलिए उत्तराखंड में इस शहर को हिंदू तीर्थ यात्रा के लिए सबसे महत्वपूर्ण स्थलों में से एक कहा गया है ।

Badrinath Temple (बद्रीनाथ मंदिर)

बद्रीनाथ या बद्रीनारायण मंदिर एक हिन्दू मंदिर है | यह मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है , ये मंदिर भारत में उत्तराखंड में बद्रीनाथ शहर में स्थित है | बद्रीनाथ मंदिर , चारधाम और छोटा चारधाम तीर्थ स्थलों में से एक है | यह अलकनंदा नदी के बाएं तट पर नर और नारायण नामक दो पर्वत श्रेणियों के बीच स्थित है । ये पंच-बदरी में से एक बद्री हैं। उत्तराखंड में पंच बदरी, पंच केदार तथा पंच प्रयाग पौराणिक दृष्टि से तथा हिन्दू धर्म की दृष्टि से महत्वपूर्ण हैं | यह मंदिर भगवान विष्णु के रूप बद्रीनाथ को समर्पित है | ऋषिकेश से यह 214 किलोमीटर की दुरी पर उत्तर दिशा में स्थित है | बद्रीनाथ मंदिर शहर में मुख्य आकर्षण है |

Hemkund Sahib (हेमकुंड साहिब)

हेमकुण्ड साहिब या ‘गुरुद्वारा श्री हेमकुंड साहिब जी’ सिखों का प्रसिद्ध धार्मिक स्थल है , जो कि उत्तराखंड के चमोली ज़िले में स्थित है। हेमकुंड एक संस्कृत नाम है , जिसका अर्थ – हेम (“बर्फ”) और कुंड ( “कटोरा” ) है | इस स्थान पर सिखों के दसवें और अंतिम गुरु श्री गुरु गोबिंद सिंह ने अपने पिछले जीवन में ध्यान साधना की थी और वर्तमान जीवन लिया था | हेमकुण्ड साहिब गुरुद्वारा की खोज 1930 में हवलदार सोहन सिंह ने की थी । यह पवित्र स्थल गुरु गोबिंद सिंह जी के यहां आने से पहले भी तीर्थ माना गया है । इस पवित्र स्थल को पहले “लोकपाल” भी कहा जाता है , जिसका अर्थ “ विश्व के रक्षक” कहा जाता था । सिखों के प्रसिद्ध धर्मस्थल हेमकुंड साहिब के लिए 20 किलोमीटर से भी अधिक पैदल ही पहाड़ की चढ़ाई पूरी करनी होती है ।

चमोली जिले में स्थित सिखों का धार्मिक स्थल “गुरुद्वारा श्री हेमकुंड साहिब” के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए दिए गए लिंक में क्लिक करे :- GURUDWARA HEMKUND SAHIB , CHAMOLI !! (गुरुद्वारा श्री हेमकुंड साहिब)

Kalpeshwar Temple (कल्पेश्वर मंदिर)

कल्पेश्वर मंदिर उत्तराखंड के प्रमुख धार्मिक एवम् पवित्र स्थलों में से एक है | कल्पेश्वर मंदिर समुन्द्र तल से 2134 मीटर की ऊँचाई पर “उर्गम घाटी” में चमोली जिले में स्थित है | इस मंदिर परिसर में “जटा” या हिन्दू धर्म के मान्य त्रिदेव में से एक “भगवान शिव जी” के उलझे हुए बालो की पूजा की जाती है | यह मंदिर “पंचकेदार” तीर्थ यात्रा में पांचवे स्थान पर आता है | कल्पेश्वर का मुख्य मंदिर भक्तों के मध्य ‘अनादिनाथ कल्पेश्वर महादेव’ के नाम से प्रसिद्ध है | यह मंदिर पंचकेदार मंदिर में से एकमात्र ऐसा मंदिर है , जो सबसे कम ऊँचाई पर स्थित है और जिसके कपाट दर्शन के लिए वर्ष भर खुले रहते है | श्रावण महीने में मंदिर में भक्तो की भीड़ का तांता बंधा रहता है |

चमोली जिले में स्थित कल्पेश्वर मंदिर के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए दिए गए लिंक में क्लिक करे :- KALPESHWAR TEMPLE , CHAMOLI !! ( कल्पेश्वर मंदिर ) !!

Activities to do in Chamoli !!

Cable Car Ride in Chamoli :- यह सबसे लोकप्रिय चीजें में से एक हैं , जो कि पर्यटकों को अपनी ओर अत्यधिक आकर्षित करती हैं | यह भारत में सबसे लंबे और सबसे ज्यादा बड़ी रोपवे में से एक है । यह 4 किमी की दूरी को शामिल करता है और सफ़ेद घास के मैदानों और हिमाच्छन्न घाटियों के मोहक दृश्य को दर्शाता है । इसके अलावा “Cable Car Ride “ को ‘गोंडोला’ के नाम से भी जाना जाता है | केबल कार 3010 मीटर की चौथी ऊंचाई पर काम करती है | Cable Car Ride औली में एक बड़ा आकर्षण उत्पन्न करता है | सैकड़ों लोग इस रोपवे को प्रतिदिन उपयोग करते हैं । यह रोपवे इसलिए बनाया गया था ताकि पर्यटकों को औली में आकर एक शानदार अनुभव मिल सके | इसी वजह से यह स्थान पर्यटकों को अपनी ओर लुभाता है |



Skiing in Chamoli :- चमोली में स्कीइंग पर्यटकों और साहसी प्रेमियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण आनंदमय खेल है । चमोली साहसी उत्साही लोगों के लिए एक उत्कर्ष स्कीइंग अनुभव प्रदान करता है । औली में स्कीइंग भारत के प्रसिद्ध स्कीइंग रिसॉर्ट्स में से एक है । औली को बर्फ से भरा गढ़वाल हिमालय में टकराया जाता है । आली स्कीयरों को एक रोमांचक अनुभव प्रदान करता है | औली में स्कीयर 20 कि.मी. की चिकनी , विशाल बर्फ की परत में खेल कर आकर्षक स्कीइंग का आनंद लेते हैं । स्कीयर लोकप्रिय हिमालय पर्वत-टॉप जैसे कामेट पर्वत (7, 756 मीटर), मन पर्वत (7, 273 मीटर) और डुनागिरी (7, 066 मीटर) के दृश्यों से घिरा हुआ है ।

Valley of Flower :- फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान (Valley of Flowers National Park) जिसे आम तौर पर सिर्फ़ फूलों की घाटी कहा जाता है ,
भारत का एक राष्ट्रीय उद्यान है , जो उत्तराखण्ड राज्य के गढ़वाल क्षेत्र के हिमालयी क्षेत्र में चमोली जिले में स्थित है । फूलो की घाटी उद्यान 87.50 किमी वर्ग क्षेत्र में फैला हुआ है । यहाँ के फूलों में अद्भुत औषधीय गुण होते हैं और यहाँ मिलने वाले सभी फूलों का दवाइयों में इस्तेमाल होता है । चमोली में आकर आपको फूलो की घाटी की सुन्दरता का आनंद जरुर लेना चाहिए क्युकी इस घाटी में फूलो की विभिन्न प्रकार की जाती देखने को मिल सकती है जो कि आपको अन्य किसी और स्थान में देखने को नहीं मिल सकती है |

फूलो की घाटी के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए दिए गए Link में क्लिक करे : – फूलो की घाटी – चमोली का प्रसिद्ध एवम् आकर्षक पर्यटन स्थल !! (VALLEY OF FLOWER)

इन सभी गतिविधियों के अलावा आप चमोली में Mystery Land Roopkund, Winter Kauari Pass Trek, Skeleton Lake (Roopkund) Trek, Chandrashila Trek आदि स्थानों की ट्रैकिंग कर चमोली जिले में ट्रैकिंग का आनंद एवम् लुफ्त उठा सकते है | 

Google Map of Chamoli District !!

चमोली – देवभूमि उत्तराखंड राज्य का एक जिला है , जो कि अलकनंदा नदी के संगम के समीप बद्रीनाथ रास्ते पर स्थित है | चमोली देवभूमि उत्तराखंड के प्रसिद्ध धार्मिक स्थानों में से एक है | आप इस स्थान को निचे Google Map में देख सकते है |





उम्मीद करते है कि आपको उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले के आकर्षक , पर्यटन स्थल और आनंद लेने के लिए गतिविधयो के बारे में पढ़कर आनंद आया होगा |

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई तो हमारे फेसबुक पेज को LIKE और SHARE  जरुर करे |

उत्तराखंड के विभिन्न स्थल एवम् स्थान का इतिहास एवम् संस्कृति आदि के बारे मे जानकारी प्राप्त के लिए हमारा YOUTUBE  CHANNEL जरुर   SUBSCRIBE करे |